Breaking News
धामी सरकार ने अग्निवीरों के लिए सरकारी नौकरी के खोले दरवाजे
बांग्लादेश में आरक्षण विरोधी हिंसा भड़कने के बाद लगा सख्त कर्फ्यू, लोगों का भारत लौटने का सिलसिला जारी 
सीएम धामी ने ‘एक पेड़ मां के नाम’ अभियान के तहत अपनी माता के साथ किया पौधारोपण
कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने गुरु पूर्णिमा के अवसर पर अपनी माता और गुरुजनों का लिया आशिर्वाद 
‘2075 तक अमेरिका को पछाड़ देंगे हम, तेजी से आगे बढ़ रही भारत की अर्थव्यवस्था’- पीएम मोदी
पीएम मोदी के X पर 10 करोड़ फॉलोअर्स होने पर एलन मस्क ने दी बधाई, पढ़ें पोस्ट में क्या कहा
गौरीकुंड-केदारनाथ पैदल मार्ग पर हुआ बड़ा हादसा, तीन तीर्थयात्रियों की हुई मौत
गढवाली सुपर नेचुरल थ्रिलर फिल्म असगार के प्रीमियर के लिए जुटी दर्शकों की भारी भीड़
सीएम ने मेधावी छात्र-छात्राओं को किया सम्मानित 

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अंकिता मर्डर केस के वीआईपी का नाम बताओ के लगाए नारे

देखें वीडियो-गायक जुबिन नॉटियाल भी रहे मौजूद

लोकसभा चुनाव का बड़ा मुद्दा बन गया अंकिता भंडारी मर्डर केस

ऋषिकेश। इस लोकसभा चुनाव का बड़ा मुद्दा अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। एक राष्ट्रीय चैनल के डिबेट शो में लोगों ने अंकिता भंडारी हत्याकांड पर जोरदार नारेबाजी की। इस मौके पर गायक जुबिन नौटियाल भी मौजूद थे। रविवार को ऋषिकेश के डिग्री कालेज में लोकसभा चुनाव को लेकर डिबेट शो का आयोजन किया गया था। इस डिबेट शो में कांग्रेस व भाजपा के बीच मुद्दों पर आधारित बहस के दौरान काफी शोरगुल हुआ। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर वीआईपी के मुद्दे पर आक्रोश जताया। वीआईपी का नाम बताओ.. अंकिता के हत्यारों को जूते मारो सालों को.. यह नारा देर तक गूंजता रहा। महिला कार्यकर्ताओं के विरोध के बीच जय श्री राम और वंदे मातरम का जयघोष भी किया गया।

गुस्साई भीड़ के बीच चैनल की महिला एंकर को भी डिबेट शो को जारी रखने में कठिनाई हुई। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने चैनल की टीम को लेकर आये हेलीकॉप्टर के निकट भी जमकर खरी खोटी सुनाई। आक्रोशित जनता गोदी मीडिया के खिलाफ भी भड़ास निकालती नजर आयी। गौरतलब है कि 2022 में ऋषिकेश के पास चीला नहर में अंकिता भंडारी को फेंक दिया था। अंकिता वनन्तरा रिसॉर्ट में काम करती थी। इस हत्याकांड में भाजपा नेता विनोद आर्य के पुत्र पुलकित आर्य समेत तीन लोग पौड़ी जेल में बन्द हैं। अंकिता हत्याकांड में वीआईपी का नाम प्रमुखता से सामने आया था। वीआईपी के खुलासे व सीबीआई जांच की मांग को लेकर कांग्रेस व परिजन लम्बे समय से आंदोलन कर रहे हैं।

अंकिता की मां ने तो कथित वीआईपी का नाम लेकर मामले का खुलासा नहीं होने पर तीखे आरोप भी लगाए थे। इस लोकसभा चुनाव में अंकिता भंडारी हत्याकांड काफी गर्मा चुका है। शनिवार को कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी ने भी अंकिता के सवाल पर भाजपा पर तीखे हमले किये थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top