Breaking News
मानसखण्ड की तरह केदारखण्ड मंदिर माला मिशन भी बनायें- महाराज
दिल्ली हाईकोर्ट ने सुनीता केजरीवाल को लगाई फटकार, जारी किया नोटिस
स्टाइलिश रेड साड़ी पहने साउथ की हसीना श्रद्धा दास ने ढाया कहर
टी20 वर्ल्ड कप 2024- भारत और कनाडा के बीच मुकाबला आज 
इटली में पीएम मोदी ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की से की मुलाकात, शांति सम्मेलन को लेकर हुई चर्चा
पीएम मोदी काशी के किसानों को देंगे आवास का उपहार
रुद्रप्रयाग में बड़ा हादसा- 15 से 16 यात्रियों को लेकर जा रहा टैंपो ट्रैवलर अलकनंदा नदी में गिरा 
आज अपने 60 वें वर्ष में प्रवेश कर रहा कैची धाम, सुबह पांच बजे से बाबा के दर्शन के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ 
नाक से ब्लैकहेड्स को निकालने के लिए आजमाएं ये 5 प्रभावी घरेलू नुस्खे

हल्द्वानी हिंसा- आगजनी करने वाले एक- एक दंगाई की पहचान कर कार्रवाई करें- सीएम

हल्द्वानी हिंसा – अराजक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें-सीएम

हल्द्वानी कांड-एडीजी कानून-व्यवस्था हल्द्वानी में कैम्प करेंगे

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा क्षेत्र में शान्ति एवं कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए एडीजी कानून और व्यवस्था ए.पी अंशुमान को प्रभावित क्षेत्र में कैंप करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने अवैध निर्माण को हटाये जाने के दौरान पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों एवं कार्मिकों पर हुए हमले तथा क्षेत्र में अशान्ति फैलाने की घटना को सख्ती से लेते हुए अराजक तत्वों के विरुद्ध सख्त करवाई करने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री आवास में उच्च स्तरीय बैठक लेते हुए मुख्यमंत्री ने उच्च अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिलाधिकारी नैनीताल से निरंतर समन्वय बनाकर रखें । उन्होंने एडीजी कानून व्यवस्था और जिलाधिकारी नैनीताल को घटना के दोषियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही कर क्षेत्र में शान्ति व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा है।

उन्होंने कहा आगजनी और पथराव करने वाले एक – एक दंगाई की पहचान कर उन पर कार्रवाई की जाय। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि प्रदेश में कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने वालों पर सख्त से सख्त करवाई की जाय।

इस अवसर पर विशेष प्रमुख सचिव/ एडीजी अमित सिन्हा, सचिव आर. मीनाक्षी सुंदरम, शैलेश बगोली, विनय शंकर पाण्डेय, अपर सचिव जे. सी कांडपाल उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top