Breaking News
रामनवमी पर रामलला का हुआ सूर्य अभिषेक, भक्ति और विज्ञान के अद्भुत संगम को निहारती रही दुनिया 
हद से ज्यादा एक्सरसाइज करने से सेहत को हो सकता है नुकसान
आरोप- आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत पर निर्वाचन आयोग मौन
गृह मंत्री शाह ने सीएम धामी के कार्यों को सराहा
महामारी बनते कैंसर को मात देने की रणनीति बने
आईपीएल 2024- कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच मुकाबला आज 
लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने उम्मीदवारों की 12वीं सूची की जारी
तमन्ना भाटिया की हॉरर-कॉमेडी ‘अरनमनई’ 4 का ट्रेलर हुआ जारी , इस दिन रिलीज होगी फिल्म
उत्तराखण्ड के पूर्व डीजीपी की बेटी कुहू गर्ग का आईपीएस में चयन

त्रिस्तरीय निर्वाचित प्रतिनिधियों का दो दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न

रूद्रपुर (उधमसिंह नगर)। राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के अन्तर्गत कुमाऊँ मण्डल के त्रिस्तरीय निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों के लिए आयोजित दो दिवसीय राज्य स्तरीय प्रशिक्षण के अंतिम दिन अनेक जनप्रतिनिधि एवं पंचायती राज विभाग के अधिकारियों ने पंचायतों को सशक्त बनाने के लिए अपने अपने विचार व्यक्त किए।

पंचायतीराज मंत्री सतपाल महाराज के मार्गदर्शन और पंचायतीराज सचिव हरिचन्द्र सेमवाल, पंचायतीराज निदेशक श्रीमती निधि यादव के दिशा निर्देश में जनपद के नगर गांधी पार्क में राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के अन्तर्गत कुमाऊँ मण्डल के त्रिस्तरीय निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों के लिए आयोजित दो दिवसीय राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला के अंतिम दिन शनिवार को पंचायतीराज विभाग के सेवानिवृत्त संयुक्त निदेशक डी०पी० देवराड़ी द्वारा मॉडल जी०पी०डी०पी० के निर्माण विषय पर प्रतिभागियों का मार्गदर्शन किया गया।

कार्यशाला में अल्मोड़ा से आये ग्राम प्रधान राजेश कुमार, नैनीताल से आये दिनेश जोशी, जसपुर से ब्रह्मानंनद, क्षेत्र पंचायत सदस्य प्रवीन कुमार कोरंगा एवं जनपद बागेश्वर से आयी श्रीमती रूकमणी दानू ने प्रशिक्षण के पुनरावलोकन के उद्देश्य से अपने-अपने अनुभव एवं विचार व्यक्त करते हुए विभिन्न समस्याओं को भी प्रतिभागियों के साथ साझा किया। जबकि स्टेट प्रोजेक्ट मैनेजर दिनेश गंगवार, द्वारा पंचायतों में लागू ई-ग्राम स्वराज एवं अन्य पोर्टलों के प्रबन्धन विषय पर प्रतिभागियों को जानकारी दी गई।

पंचायतीराज विभाग के संयुक्त निदेशक राजीव कुमार नाथ त्रिपाठी ने बताया कि कार्यशाला के अंतिम आज कुमाऊँ मण्डल से आये त्रिस्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों को जनपद ऊधमसिंह नगर में स्थित पंचायत लर्निंग सेंटर एवं काठगोदाम स्थित प्लास्टिक रिसाईक्लिंग प्लांट का भी अध्ययन और भ्रमण करवाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top